Wednesday, March 4, 2015

CHANDIGARH TGT EXAM KI ANSWER KEY FOR COMMAN PAPER,MATHS,SCIENCE AND SOCIAL SCIENCE

[Question Booklet with Answer Key for the post of TGT]
1.)TGT Common (Paper-1)Set-A  Set-B  Set-C  Set-D
2.)TGT English (Paper-2)upload on 11-3-2015
3.)TGT Mathematics (Paper-2)Set-A  Set-B  Set-C  Set-D
4.)TGT Music (Paper-2)upload on 11-3-2015
5.)TGT Fine Arts (Paper-2)upload on 11-3-2015
6.)TGT Hindi (Paper-2)upload on 11-3-2015
7.)TGT Punjabi (Paper-2)upload on 11-3-2015
8.)TGT Sanskrit (Paper-2)upload on 11-3-2015
9.)TGT Physical Education (DPE) (Paper-2)upload on 11-3-2015
10.)TGT Home Science (Paper-2)upload on 11-3-2015
11.)TGT Science (Non-Medical) (Paper-2)Set-A  Set-B  Set-C  Set-D
12.)TGT Science (Medical) (Paper-2)Set-A  Set-B  Set-C  Set-D
13.)TGT Social Science (Paper-2)Set-A  Set-B  Set-C  Set-D
NOTE: For Paper-1 of all subjects and Paper-2 of TGT (Social Studies, Medical, Non-Medical and Mathematics) date(s) regarding uploading of answer key and submission of obiections are 3-3-2015 at 2:00 pm and the objections can be submitted by 9-3-2015 up to 5:00 pm by only online performa submission.(i.e. sent by post/in-persion will not be entertained).

HTET : एचटेट ऑनलाइन करने की तैयारी

 शिक्षकपात्रता परीक्षा के अभ्यर्थियों के लिए अच्छी खबर है। अब उन्हें दूर-दराज के जिलों में जाकर परीक्षा देने से छुटकारा मिलने की उम्मीद है। हरियाणा शिक्षा बोर्ड की योजना कारगर होती है तो एचटेट अब ऑनलाइन हो सकेगा। एचटेट की शुरुआत वर्ष 2008 में की थी। अभी तक प्रावधान है कि अभ्यर्थियों को दूर- दराज के जिलों में बनाए गए सेंटरों पर परीक्षा देनी होती है। बोर्ड बुधवार से 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं कराएगा, जिस कारण पूरे मार्च माह में बोर्ड इन परीक्षाओं में ही व्यस्त रहेगा। उम्मीद है कि बोर्ड परीक्षाएं खत्म होने के बाद अप्रैल माह के मध्य में शिक्षक पात्रता परीक्षा कराई जा सकती है। बोर्ड की योजना है कि शिक्षक पात्रता परीक्षा में परीक्षार्थियों को ऑनलाइन और ऑफ-लाइन दोनों विकल्प दिए जाएं, जिससे परीक्षार्थी सुविधा के अनुसार विकल्प चुन सकेंगे। दूर-दराज के जिलों में बनने वाले सेंटरों पर परीक्षा देने से मिलेगा छुटकारा

ART AND CRAFTS TEACHERS KO DIVISION BANCH SE RAHAT NAHI